ब्रह्मण्य/brahmany
लोगों की राय

शब्द का अर्थ खोजें

शब्द का अर्थ

ब्रह्मण्य  : वि० [सं० ब्रह्मन्+यत्] १. ब्राह्मणों से संबंध रखनेवाला। २. ब्रह्म-संबंधी। ३. सभ्य तथा शिष्ट समाज के उपयुक्त। पुं० १. ब्राह्मण होने की अवस्था या भाव। २. वह जो ब्राह्मणों के प्रति निष्ठा रखता हो। ३. शहतूत।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
 
लौटें            मुख पृष्ठ