ब्रह्म-रूपक/brahm-roopak
लोगों की राय

शब्द का अर्थ खोजें

शब्द का अर्थ

ब्रह्म-रूपक  : पुं० [सं० ब० स०+कप्, अथवा, ष० त०] एक प्रकार का छंद जिसके प्रत्येक चरण में गुरु लघु के क्रम से १६ अक्षर होते हैं। इसे चंचला और ‘चित्र’ भी कहते हैं।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
 
लौटें            मुख पृष्ठ