लिखा-पढ़ी/likha-padhee
लोगों की राय

शब्द का अर्थ खोजें

शब्द का अर्थ

लिखा-पढ़ी  : स्त्री० [हिं० लिखना+पढ़ना] १. लिखने और पढ़ने की क्रिया या भाव। २. पत्रों का आना और उनके उत्तर जाना। पत्र-व्यवहार। ३. अनुबन्ध संधि, समझौते आदि की शर्तों का लिखा हुआ होना।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
 
लौटें            मुख पृष्ठ