लिखित/likhit
लोगों की राय

शब्द का अर्थ खोजें

शब्द का अर्थ

लिखित  : स्त्री० [हिं० लिखना] १. लिखने की क्रिया या भाव। २. लिखे हुए होने की अवस्था या भाव। मुहावरा—लिखत पढ़त होना=लिखा-पढ़ी में होना। ३. वह दस्तावेज जो विधिक दृष्टि से प्रामाणिक माना जा सकता हो। आपस में की हुई लिखा-पढ़ी। (इंस्टूमेंट) ५. भाग्य का लेख। अव्य०=लिखित।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
लिखित  : अव्य० [सं] एक पद जिसका प्रयोग हस्तलिखित ग्रन्थों के अंत में या चित्रों के नीचे उनके लेखक या चित्रकार के नाम के पहले उनका कर्त्तव्य सूचित करने के लिए होता था।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
लिखित  : भू० कृ० [सं० लिख (लिखना)+क्त] १. लिखा हुआ। लिपिबद्ध किया हुआ। अंकित। २. जो लेख या लेख्य के रूप में हो। लेख्य (डाक्युमेंट्स) पुं० १. लिखी हुई बात। लेख। २. लिखा हुआ प्रमाण पत्र। सनद।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
लिखितक  : पुं० [सं० लिखित] एक प्रकार की प्राचीन लिपि जिसके अक्षर चौकोर होते थे। इसके लेख खुतन (मध्य एशिया) में पाये गये शिलों में मिलते हैं।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
 
लौटें            मुख पृष्ठ