शिखर/shikhar
लोगों की राय

शब्द का अर्थ खोजें

शब्द का अर्थ

शिखर  : पुं० [सं० शिखा+अरच् अलोप] १. किसी चीज का सबसे ऊपरी भाग। सिरा। चोटी। २. पहाड़ की चोटी। पर्वत-श्रृंग। ३. गुंबद मंदिर मसजिद आदि का ऊँचा नुकीला सिरा। ४. गुंबद। ५. मंडप। ६. मंदिर या मकान के ऊपर का उठा हुआ नुकीला सिरा। कँगूरा कलश। ७. जैनों का एक प्रसिद्ध तीर्थ। ८. एक प्रकार का छोटा रत्न। ९. उँगलियों की एक मुद्रा जो तान्त्रिक पूजन में बनाई जाती है। १॰. प्राचीन काल का एक प्रकार का अस्त्र। ११. लौंग। १२. कुंद की कली। १३. काँख। बगल। १४. लपुलक। रोमांच।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
शिखरणी  : स्त्री० [सं० शिखर√नि+क्विप्-ङीष्]=शिखरिणी।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
शिखर-दशना  : वि० स्त्री० [सं० ब० स०] (स्त्री) जिसके दाँत कुंद की कली के समान हों।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
शिखरन  : पुं० [सं० शिखर√नी (ढोना)+ड, शिखरिणी] दही और चीनी का बना हुआ एक प्रकार का मीठा गाढ़ा पेय पदार्थ जिसमें केशर, कपूर, मेवे आदि पड़े होते हैं।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
शिखर-वासिनी  : स्त्री० [सं० शिखर√वस् (रहना)+णिनि] शिखर पर बसनेवाली दुर्गा।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
शिखर-सम्मेलन  : पुं० [ष० त०] कई राष्ट्रों के सर्वोच्च अधिकारियों अथवा शासकों का ऐसा सम्मेलन जो किसी महत्वपूर्ण राजनीतिक विषय पर विचार करने के लिए हो (सम्मिट कान्फरेन्स)।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
शिखरा  : स्त्री० [सं० शिखर-टाप्] १. मूर्व्वा। मरोड़फली। मुर्रा। २. एक गदा जो विश्वामित्र ने रामचन्द्र को दी थी।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
शिखरिणी  : स्त्री० [सं० शिखर+इनि+हीष्] १. श्रेष्ठ स्त्री। २. शिखरन नामक पेय पदार्थ। ३. १७ अक्षरों की एक वर्णवृत्ति जिसमें छठें और ग्यारहवें वर्ण पर यति होती है। ४. रोमावली। ५. बेला का मोतिया नामक फूल। ६. नेवारी। ७. आम। ८. किशमिश। ९. मूर्वा। मरोड़-फली।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
शिखरी  : पुं० [सं० शिखर+इनि-द्रघी, नलोप] १. पर्वत। पहाड़। २. पहाड़ी। किला। ३. पेड़। वृक्ष। ४. अपामार्ग। चिचड़ा। ५. बंदाक। बाँदा। ६. लोवान। ७. काकड़ा सिंगी। ८. ज्वार। मक्का। ९. कुंदरू नामक गन्ध द्रव्य। १॰. एक प्रकार का मृग। स्त्री० [सं० शिखरा।] एक गदा जो विश्वामित्र ने रामचन्द्र को दी थी। शिखरा।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
 
लौटें            मुख पृष्ठ